आरोहण अध्ययन केंद्र

आरोहण अध्ययन केंद्र – साधनविहीन समुदायों के मध्य अध्ययन सुविधा उपलब्ध कराना

आरोहण अध्ययन केंद्र दिल्ली में स्थित एक लाभरहित संस्था है जो न्यूनतम संसाधनों वाली पृष्ठभूमि के लोगों को शिक्षा देकर एवं उनके कौशल का विकास करके उन्हें सशक्त बनाने के लिए समर्पित है। आरोहण का प्रारंभ वर्ष 2012  में पूर्वी दिल्ली के शहादरा में स्थानीय समुदाय की महिलाओं के एक छोटे से समूह को सिलाई कौशल सिखाने के साथ हुआ था, और शीघ्र ही उनके बच्चों को भी अनौपचारिक शिक्षा प्रदान करने के लिए इसमें एक शिक्षण केंद्र को सम्मिलित करने के लिए इसका विस्तार किया गया।

आरोहण अध्ययन केंद्र का उद्देश्य इसका द्वि-पक्षीय विकास करना है, यथा विद्यालय-शिक्षण-उपरांत अध्ययन केंद्र के रूप में विकसित करना एवं आसपास के क्षेत्रों में अधिक से अधिक छात्रों और महिलाओं तक पहुँचने और उनके प्रशिक्षण के लिए एक कौशल-निर्माण केंद्र के रूप में विकसित करना; तथा प्रशिक्षण पूरा होने पर महिलाओं द्वारा स्वतंत्र रूप से सूक्ष्म उद्यमों को प्रारंभ करने में सहायता करना, एवं प्रदर्शनियों और ई-व्यापार उपक्रमों जैसे विभिन्न विक्रय-केन्द्रों के माध्यम से उनके उत्पादों के विक्रय में सहायता करना।

आरोहण अध्ययन केंद्र ने निकट के शासकीय विद्यालयों में पढने वाले बहुत से बच्चों की उनके शिक्षण कौशल में सुधार करने, शैक्षिक प्रदर्शन और शिक्षा के विविध उपकरणों तथा विधियों का उपयोग करके समग्र विकास करने में सहायता की है।

इसी प्रकार, आरोहण अध्ययन केंद्र ने कई महिलाओं को सिलाई, डिज़ाइनिंग और कढ़ाई में कौशल प्रदान करके उनके जीवन को सकारात्मक रूप से प्रभावित किया है। इन महिलाओं में से अधिकांश घर से सिलाई का कार्य करने से आत्मनिर्भर हो गई हैं, जबकि कुछ ने अपने समुदायों में अपने निजी बुटीक व्यवसाय या प्रशिक्षण केंद्र प्रारंभ कर दिए हैं।

सृजन फाउंडेशन ट्रस्ट शिक्षा और सामुदायिक सशक्तिकरण के क्षेत्रों में तृणमूल स्तर पर वास्तविक, ठोस परिवर्तन लाने में सहायक बनने के लिए आरोहण अध्ययन केंद्र का समर्थन करने के लिए प्रतिबद्ध है, जिससे भारतीय सभ्यता के पुनरुत्थान, पुनर्निर्माण एवं पुनः सशक्तिकरण के अपने उद्देश्य को पूर्ण किया जा सके।


Leave a Reply

Sarayu Trust is now on Telegram.
#SangamTalks Updates, Videos and more.